Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Due To Population Growth

Due To Population Growth | जनसंख्या वृद्धि के कारण ?

जनसंख्या वृद्धि के कारण, जनसंख्या विस्फोट किसे कहते हैं, जनसंख्या वृद्धि को रोकने के उपाय (Due To Population Growth, what is population explosion, Measures to stop population growth)

जनसंख्या वृद्धि के कारण (due to population growth)

  • बाल विवाह होने के कारण जनसंख्या में वृद्धि हो रही है।
  • अशिक्षा के कारण जनसंख्या में वृद्धि हो रही है।
  • सामाजिक कुरीतियों एवं अंधविश्वासों के कारण जनसंख्या में वृद्धि हो रही है।
  • जन्मदर में वृद्धि के कारण जनसंख्या में वृद्धि हो रही है।
  • कुछ लोग बच्चों को भगवान की देन मानते हैं जिसके फलस्वरूप जनसंख्या में वृद्धि हो रही हैं ।
  • मृत्युदर में कमी से जनसंख्या में वृद्धि हो रही है ।
  • कुछ लोग यह सोचते हैं कि हमारे जिताने अधिक वच्चें होंगे हम उतने ही धनी होंगे ।
Due To Population Growth
Due To Population Growth

जनसंख्या विस्फोट किसे कहते हैं (what is population explosion)

जनसंख्या कम समय में अधिक तेजी के साथ बड़ती हैं तो इसे जनसंख्या का विस्फोट कहते हैं। उदहारण के तौर पर समझाया जाए तो किसी देश में एक साल में एक करोड़ जनसंख्या बड़ रही हो लेकिन कुछ कारणों से इस साल की जनसंख्या 6 करोड़ बड़ गई हो उस स्थिति को जनसंख्या विस्फोट किसे कहते हैं

जनसंख्या वृद्धि को रोकने के उपाय (Measures to stop population growth)

  • बाल विवाह पर रोक लगाकर जनसंख्या वृद्धि को कम किया जा सकता हैं ।
  • अशिक्षा को दूर करके जनसंख्या वृद्धि को रोका जा सकता हैं ।
  • सामाजिक कुरीतियों एवं अंधविश्वासों को रोककर जनसंख्या वृद्धि को रोका जा सकता हैं।
  • परिवार नियोजन के साधनों को अपनाकर जनसंख्या वृद्धि को रोका जा सकता हैं ।
  • लोगों को जनसंख्या वृद्धि की समस्या बताकर जनसंख्या वृद्धि को रोका जा सकता हैं।
  • लड़के-लडकियों की विवाह की उम्रको भी बढ़ाई जानी चाहिए।
यह आर्टिकल किस के बारें में हैंजनसंख्या वृद्धि
जनसंख्या वृद्धि को रोकने के उपायबाल विवाह पर रोक लगाकर
Population of India140 Cr Cross

यह भी पढ़ें –

हरियाणा बोर्ड परीक्षा की कॉपी कैसे

भारत की 80 प्रतिशत जनसंख्या गॉंवों में निवास करती है। जनसंख्या मेंयह तीव्र वृद्धि देश के लिए अभिशाप बनती जा रही है। फलस्वरूप गरीबी, बेराजगारी तथा महंगाई आदि समस्यायें दिनों दिन बढ़ती जा रही है। गांवों में शिक्षा की कमी और अज्ञानता के कारण तथा नगरों में गंदी बस्तियों के लोगों में शिक्षा की कमी के कारण जनसंख्या नियंत्रण का कोई भी कार्यक्रम सफल नहीं हो पा रहा है। लोगों में शिक्षाका प्रसार कर ही जनसंख्या वृद्धि पर नियंत्रण किया जा सकता है।

जनसंख्या वृद्धि को रोकने के लिए परिवार नियोजन के विभिन्न कार्यक्रमोंका प्रचार-प्रसार अति आवश्यक है। परिवार नियोजन कार्यक्रम को जन आंदोलन का रूप दिया जाना चाहिए।

सन 2000 तक भारत की कुल आबादी बढकर 1 अरब हो गई थी। इस दृष्टि से दुनिया का हर 60 वांव्यक्ति भारतीय है। 2007 में भारत की जनसंख्या 1,02,87,37,436 है। जिनमें 53,22,23,090 पुरूष तथा 49,65,14,436 महिलाएँ है। जिनमें 53,22,23,090 पुरूष तथा महिलाएँ है। जनसंख्या वृद्धि के कारण भारत दुनिया के कुछ समस्याग्रस्त देशों में से एक है।

दोस्तों मेरे द्वारा बताए गए यह जानकारी आपको पसंद आई हो तो शेयर करें।

होम पेजक्लिक करें
मृत्यु किसे कहते हैंक्लिक करें
क्लास 10वीं के टॉपर कैसे बनेंक्लिक करें
Population Growth

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: