Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

Write Essay On Aids | एड्स पर निबंध लिखिए ?

एड्स पर निबंध लिखिए, एड्स का फुल फॉर्म, एड्स के लक्षण, एड्स के संचरण, एड्स के उपचार (Write Essay On Aids, Full Form Of Aids, Symptoms Of Aids, Transmission Of Aids, Aids Treatment)

एड्स पर निबंध लिखिए (Write Essay On Aids)

एड्‌स’ एक जानलेवा बीमारी है जो धीरे-धीरे समूचे विश्व को अपनी गिरफ्त में लेती जा रही है । दुनियाभर के चिकित्सक व वैज्ञानिक वर्षों से इसकी रोकथाम के लिए औषधि की खोज में लगे हैं परंतु अभी तक उन्हें सफलता नहीं मिल सकी है ।पूरे विश्व में ‘एड्‌स’ को लेकर तरह-तरह की चर्चाएँ हैं । सभी बेसब्री से उस दिन की प्रतीक्षा कर रहे हैं जब वैज्ञानिक इसकी औषधि की खोज में सफल हो सकेंगे । वैज्ञानिक सन् 1977 ई॰ में ही इसके प्रति सचेत हो गए थे। जब विश्व भर के 200 से भी अधिक वैज्ञानिकों का एक सम्मेलन अमेरिका में हुआ था ।

परंतु वास्तविक रूप में इसे मान्यता सन् 1988 में मिली । तभी से 1 दिसंबर को हम ‘एड्‌स विरोधी दिवस’ के रूप में जानते हैं ।वे सभी व्यक्ति जो एड्‌स से ग्रसित हैं उनमें एच॰ आई॰ वी॰ वायरस अर्थात् विषाणु पाए जाते हैं । आज विश्वभर में एड्‌स से प्रभावित लोगों की संख्या चार करोड़ से भी ऊपर पहुँच गई है । अकेले दक्षिण व दक्षिण-पूर्व एशिया में ही लगभग एक करोड़ लोग एच॰ आई॰ वी॰ से संक्रमित हैं । अकेले थाईलैंड में ही हर वर्ष लगभग 3 से 4 हजार लोग एड्‌स के कारण काल का ग्रास बन रहे हैं ।

अधिक गहन अवलोकन करें तो हम पाते हैं कि विश्व भर में प्रति मिनट लगभग 25 लोग एड्‌स के कारण मरते हैं ।

जनसंख्या वृद्धि के कारण

एड्‌स का पूरा नाम – ‘ऐक्वायर्ड इम्यूनो डेफिशियेसी सिन्ड्रोम’ है। विषाणु का नाम – HiV (ह्यूमन इम्यूनो डेफिशियेसी वायरस) इस रोग को सबसे पहले सन् 1981 में अमेरिका में समलैंगिक युवकों में देखा गया। इस रोग में HiVT – लिम्फोसाइट्स की हेल्परप कोशिकाओं को मार देता हैं । जिससे प्रतिरक्षा तंत्र नष्ट हो जाता है।

इस आर्टिकल का उद्देश्यएड्स पर निबंध
एड्स कैसे होता हैअसुरक्षित यौन सम्बन्धों द्वारा फैलता है
एड्स से वचावनाई द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली दूषित ब्लेड्स का द्वारा उपयोग न करने दें

यह भी पढ़ें –

एड्स के लक्षण (Symptoms Of Aids)

लक्षण –

  1. लसिका ग्रथिंयों में सूजन आ जाती है।
  2. हर समय बुखार बना रहता है।
  3. रात में बहुत पसीना आता है।
  4. शरीर कमजोर हो जाता है।
  5. वजन घटने लगता हैं।

एड्स के संचरण (Transmission Of Aids)

संचरण –

  1. असुरक्षित यौन सम्बन्धों द्वारा फैलता है ।
  2. डॉक्टरों द्वारा उपयोग की जाने वाली दूषित सीरिंज द्वारा फैलता है ।
  3. गर्भवती महिला से उसके होंने वाले बच्चे को सकता हैं ।
  4. नाई द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली दूषित ब्लेड्स से हो सकता हैं।
  5. एक संक्रमित व्यक्ति के रक्त आधान से हो सकता हैं ।

एड्स के उपचार (Aids Treatment)

उपचार – इस रोग का कोई उपचार नहीं है । केवल सुरक्षा ही वचाव हैं । फिर भी निम्नलिखित उपचारों का प्रयोग किया जाता हैं ।

ICG Stage 1 Document List 2022

  1. TIAS इंजेक्शन – बुल्गेरियन चिकित्सकों द्वारा प्रस्तावित यह इंजेक्शन Aids के विषाणु की रोकथाम करता है।
  2. जीन थैरेपी – इस उपचार में T लिम्फोसाइट्स की जीन थैरेपी कर दी जाती हैं।
  3. औषधियाँ – इस उपचार में AZT नामक औषधियों का उपयोग किया जाता हैं।

एड्स से वचाव (Cure for Aids)

  1. असुरक्षित यौन सम्बन्धों से दूर रहें ।
  2. डॉक्टरों द्वारा उपयोग की जाने वाली दूषित सीरिंज का द्वारा उपयोग न करने दें ।
  3. नाई द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली दूषित ब्लेड्स का द्वारा उपयोग न करने दें ।
  4. एक संक्रमित व्यक्ति के रक्त आधान से दूर रहें ।

दोस्तों मेरे द्वारा बताई गई यह जानकारी आपको पसंद आई हो तो हर स्टूडेंट के साथ शेयर करें। ताकि उन लोगों को पता चल सकें एड्स क्या होता है। और एड्स से दूर कैसे रहें।

होम पेजक्लिक करें
मृत्यु किसे कहते हैंक्लिक करें

fAQ Question?

एड्स क्या है एड्स के कारण, लक्षण उपचार एवं नियंत्रण लिखिए?

एड्‌स’ एक जानलेवा बीमारी है जो धीरे-धीरे समूचे विश्व को अपनी गिरफ्त में लेती जा रही है । दुनियाभर के चिकित्सक व वैज्ञानिक वर्षों से इसकी रोकथाम के लिए औषधि की खोज में लगे हैं परंतु अभी तक उन्हें सफलता नहीं मिल सकी है।

एड्स की रोकथाम के कोई तीन उपाय लिखिए?

  • TIAS इंजेक्शन – बुल्गेरियन चिकित्सकों द्वारा प्रस्तावित यह इंजेक्शन Aids के विषाणु की रोकथाम करता है।
  • जीन थैरेपी – इस उपचार में T लिम्फोसाइट्स की जीन थैरेपी कर दी जाती हैं।
  • औषधियाँ – इस उपचार में AZT नामक औषधियों का उपयोग किया जाता हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: