Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
The people of this state will not become the 13th installment

इस राज्य के लोगों को नहीं मिलेगी 13वीं किस्त, PM Kisan योजना पर आई बड़ी खबर

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थी अब 13 वीं किस्त का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। बीते हुए कुछ महीने पहले 12वीं किस्त भारत के सभी किसानों के खाते में भेज दी गई थी। लेकिन बीते हुए कुछ महीनों के बाद अब 13वीं किस्त जारी करने का समय आ गया है। लेकिन सरकार की तरफ से जानकारी दी जा रही है। की 13वीं किस्त कुछ राज्यों में कुछ किसानों को नहीं दी जाएगी। तो आइए जानते हैं क्या आपकी 13वीं किस्त आएगी कि नहीं आएगी पूरी जानकारी इस पोस्ट में विस्तार से बताई गई है। तो आप इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

सरकार की तरफ से सूचना दी जा रही है। की छत्तीसगढ़ के सभी किसानों को 13वीं किस्त देखने को नहीं मिल सकती हैं। क्योंकि उनमें से कइयों ने अब तक भूलेख सत्यापन (Bhulekh Verification) और ई-केवाईसी (e-KYC) नहीं करवाया है।

PM Kisan
PM Kisan

फर्जीवाड़ा रोकने के लिए उठाए सरकार ने बड़े कदम?

पीएम किसान सम्मान निधि योजना में फर्जीवाड़ा रोकने के लिए भारत सरकार ने कड़े नियमों लागू किए हैं जिससे फर्जीवाड़ा रोका जा सकता है। पीएम किसान योजना की 13 वीं किस्त प्राप्त करने के लिए भूलेख सत्यापन और ई-केवाईसी करवाना आवश्यक है. अगर यह काम नहीं हुआ तो 13वीं किस्त मिलना मुश्किल हो जाएगा। तो ऐसे में सभी किसानों को इस बात का पालन करना होगा ताकि आपको 13 वीं किस्त प्राप्त हो सके।

PM Kisan सम्मान निधि योजना क्या है?

आर्थिक समस्या को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ देने का सोचा यह 2 दिसंबर 2018 से लाभ दिया जा रहा है लेकिन आपको बता दे PM Kisan eKyc करना भी जरूरी है पीएम किसान की केवाईसी कैसे करें आज इस आर्टिकल में हम आपको बताने वाले अपने फोन से घर बैठे कर सकते हैं।

सरकार का नामभारत सरकार
योजना का नामपीएम किसान सम्मान निधि योजना
घोषणा कर्ताप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
राशि
लाभार्थीभारतीय किसान
सूचनापीएम किसान योजना ईकेवाईसी
अपडेट प्रक्रियाऑनलाइन
लिंक्सpmkisan.gov.in

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का बयान?

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि वर्तमान में छत्तीसगढ़ में 27,43,708 किसान पीएम किसान योजना की लाभार्थी सूची में सक्रिय हैं. हालांकि, पीएम किसान योजना की अगली किस्त सिर्फ 19,75,340 किसानों को ही मिल सकेगी. अगर किसानों ने अब तक भूलेख सत्यापन और ई-केवाईसी नहीं कराया तो 13वीं किस्त का लाभ मिलना मुश्किल होगा।

तो मैं छत्तीसगढ़ के सभी किसानों से आग्रह करता हूं। कि समय रहते हुए आप भूलेख सत्यापन और ई-केवाईसी नहीं कराए और 13 वीं किस्त का भरपूर लाभ उठाएं।

सारांश

हमें पूरी उम्मीद है कि आपको यह पोस्ट भूलेख सत्यापन और ईकेवाईसी से जुड़ी जानकारी जरूर पसंद आया होगा। इस लेख के द्वारा हमने आपको संपूर्ण जानकारी बताया है। जिससे आप बहुत ही कम समय में भूलेख सत्यापन और ई-केवाईसी कर सकते हैं।

अगर आपको इस लेख से संबंधित कोई प्रश्न पूछना है। या फिर आपका कोई सुझाव है। तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं। हम आपके सभी Comment का उत्तर देने का प्रयास करेंगे। साथ ही आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: