Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

PGDCA Course क्या हैं कैसे करे? (PGDCA Course Details in Hindi)

PGDCA Course Details in Hindi : यदि आप PGDCA Course को करना चाहते हैं या फिर PGDCA Course के बारें जानना चाहते हैं। तो आप सही जगह पर आए हैं। क्योंकि आज के इस पोस्ट में PGDCA Kya हैं और PGDCA Kaise Kare के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई है।

शायद आप समझ ही गए होंगे। कि आज के समय में कंप्यूटर का कितना ज्यादा महत्व है। कंप्यूटर कोर्स करना कितना जरूरी हो गया है। चाहे आप प्राइवेट कंपनी में काम करने के लिए जाएं या फिर सरकारी नौकरी करें सभी में कंप्यूटर के Diplom की जरूरत होती है।

 PGDCA Course Kya Hai : आज के समय में कंप्यूटर का उपयोग दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। उसी हालात को देखते हुए छात्र अपने भविष्य के बारे में सोचने लगते हैं। ऐसे में जो छात्र दसवीं के बाद कंप्यूटर कोर्स करने की सोचते हैं। उनके लिए PGDCA Course सबसे अच्छा विकल्प हो सकता है।

यदि आप PGCA Course करने की सोच रहे हैं। तो PGDCA Course क्या है। PGDCA कैसे करें। PGDCA में क्या-क्या पढ़ाया जाता है। और PGDCA से कौन सी जॉब मिलती है। PGDCA फुल फॉर्म, PGDCA Course fees, PGDCA Course करने से फायदे, PGDCA से संबंधित जानकारी इस पोस्ट में विस्तार से बताई गई है।

अगर आप PGDCA Course Details in Hindi में विस्तार से जानना चाहते हैं। तो इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

नमस्कार दोस्तों,

मेरा नाम Rinku Rathor हैं। मैं पिछले 1 साल से ब्लॉगिंग कर रहा हूं। मैं इस ब्लॉग पर रोजाना आपके लिए EducationEarn Money Online रिलेटेड जानकारी देता रहता हूं।

PGDCA Course Details in Hindi
PGDCA Course Details in Hindi

PGDCA Full Form in Hindi?

PGDCA का फुल फॉर्म “Post Graduate Diploma in Computer Application” होता हैं। हिंदी में “कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा” होता हैं। जिसे शॉर्ट में PGDCA हैं।

PGDCA Course क्या है? (What is PGDCA Course Details in Hindi)

पीजीडीसीए कोर्स यह 1 वर्षीय कोर्स है। जिसे हिंदी में पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन कहते है। इस कोर्स में कंप्यूटर के बारे में सिखाया जाता है और पढ़ाया जाता है। कंप्यूटर क्या है, कंप्यूटर कैसे काम करता है, सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर, कंप्यूटर इनपुट डिवाइस, कंप्यूटर के आउटपुट डिवाइस, MS Word, MS Excat आदि के बारे में पढ़ाया और सिखाया जाता है।

PGDCA का फुल फॉर्मPost Graduation Diploma in Computer Application
कोर्स की अवधि1 वर्ष
टाइप ऑफ आर्टिकलPGDCA Course Details in Hindi
कोर्स का स्तरपोस्ट ग्रेजुएशन
कोर्स की फीस10,000 से 30,000 रुपए
टॉप जॉब प्रोफाइलवेब डेवलपर, UX डिजाइनर, सॉफ्टवेयर डेवलपर, इथीकल हैकर
सैलरी पैकेज2 लाख रुपए से 20 लाख रुपए सालाना

PGDCA Course कैसे करें?

PGDCA Course करने के लिए ज्यादातर कॉलेजों में प्रवेश मेरिट लिस्ट के आधार पर किया जाता है। इसलिए विद्यार्थियों को बैचलर डिग्री में अच्छे अंक प्राप्त करने होंगे ताकि उन्हें प्रवेश लेने में कठिनाइयों का सामना ना करना पड़े। ऐसे में विद्यार्थियों के पास एक और मौका है। कई सारी कॉलेज इंस्टिट्यूट ऐसे हैं। जिसमें बिना प्रवेश परीक्षा दिए हुए एडमिशन मिल जाता है। तो ऐसे में उन कॉलेजों में एडमिशन आसानी से ले सकते हैं। हालांकि इन कॉलेजों में फीस काफी ज्यादा होती है इसलिए प्रवेश परीक्षा देने की जरूरत नहीं पड़ती है।

तो ऐसे में आपके पास 2 तरह से ऑप्शन है। एक तो यह है कि आप अच्छे अंको से बैचलर डिग्री में पास हो। और दूसरा यह है कि आप प्राइवेट कॉलेजों में जाकर प्रवेश ले सकते हैं जिसमें आपको ज्यादा फीस देखने को मिल सकती है।

यह भी पढ़ें –

PGDCA Course के लिए योग्यता?

यदि आप पीजीडीसीए कोर्स की क्वालिफिकेशन के बारे में खोज रहे हैं। पीजीडीसीए कोर्स करने के लिए आपके पास क्वालिफिकेशन होने की जरूरत है जिसकी जानकारी इस पोस्ट में दी गई है। किसी भी कॉलेज में कंप्यूटर एप्लीकेशन पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा के लिए प्रवेश पाने में पीजीडीसीए कोर्स करने के लिए आपके पास बैचलर डिग्री होना बहुत ही महत्वपूर्ण है तब आप पीजीडीसीए कोर्स को कर सकते हैं।

PGDCA Course Fees कितनी हैं?

पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा कंप्यूटर एप्लीकेशन यानि (PGDCA) की फीस की बात करें तो आम तौर अलग-अलग कॉलेज में अलग-अलग देखने को मिल सकती है। क्योंकि हर एक संस्थान के पास एक अपॉर्चुनिटी हैं। जहां पर आपको काफी सारी सुविधा देखने को मिल सकती हैं। जैसे कि सरकारी संस्थान से करते हैं तो आपको कम फीस देखने को मिलती है। लेकिन प्राइवेट संस्थान से PGDCA Course करते है। ज्यादा फीस देखने को मिल सकती आमतौर पर 10,000 रूपए से 30,000 रूपए सलाना हो सकता है।

PGDCA Syllabus in Hindi?

जो छात्र पीजीडीसीए कोर्स को करना चाहते हैं। तो उन सभी छात्र-छात्राओं से मेरा यही कहना है। पीजीडीसीए करने से पहले एक बार सिलेबस को जरूर देखें। क्योंकि इसमें काफी सारे सब्जेक्ट देखने को मिल सकते हैं। यही नहीं बल्कि अलग-अलग संस्थान में अलग-अलग सब्जेक्ट देखने को मिल सकते हैं। जबकि कुछ सब्जेक्ट सामान होते हैं।

  • Information Technology
  • Programming (VB.net)
  • Software Development
  • Internet & E-commerce / Web Page Designing
  • Communication Skills
  • Database Management System
  • Operating System (Windows, MS Dos)
  • Fundamental Of Computer
  • Project Work
  • MS Office
  • Tally
  • (PC Packages) MS Access

अब आप समझ गए होंगे। कि PGDCA Me Kitne Subject Hote hai. तो आप बात करते हैं। पीजीडीसीए कोर्स को कब करें और कैसे करें।

PGDCA कब कर सकते हैं?

यदि आप पीजीडीसीए कोर्स करने के बारे में सोच रहे हैं। तो उसके लिए आपके पास ग्रेजुएशन डिग्री होनी चाहिए। तब आप इस कोर्स को कर सकते हैं। पीजीडीसीए करने के बाद काफी सारे फायदे देखने को मिल सकते हैं जिसकी जानकारी नीचे दी गई है।

PGDCA के फायदे?

पीजीडीसीए कोर्स के काफी सारे फायदे हैं। जो कि कुछ इस प्रकार बताए गए हैं।

  • पीजीडीसीए करने के बाद बहुत ही आसानी से जॉब मिल जाती है। अगर आप सरकारी जॉब में आवेदन करते हैं। तो कोर्स के डिप्लोमा को लगा सकते हैं। ताकि आपको सरकारी नौकरी में छूट मिल सके। जिससे आपकी पोस्ट भी बढ़ सके।
  • इस कोर्स को करने के बाद कंप्यूटर के वेसिक के बारे में काफी ज्यादा नॉलेज हो जाता है। जिससे आप कंप्यूटर के फील्ड में लोगों को सर्विस देकर अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं।
  • इस कोर्स को करने के बाद उम्मीदवार खुद की एक सर्विस दुकान खोल सकता है। जैसे की ऑनलाइन सर्विस देना CSC Center आदि खोल सकते हैं।
  • PGDCA Ke Baad उम्मीदवार को MCA और MBA में सीधे प्रवेश भी ले सकते हैं।
  • इसके अलावा काफी सारे फायदे देखने को मिल सकती हैं।

PGDCA के बाद कैरियर ?

ज्यादातर छात्रों का सबसे महत्वपूर्ण और सबसे बड़ा प्रश्न यही होता है कि PGDCA Ke Baad Kya Kare तो दोस्तों इस जानकारी के मुताबिक पीजीडीसीए करने के बाद कैरियर के बहुत से रास्ते खुल जाते हैं। चाहे तो आप आगे की पढ़ाई कर सकते हैं। या फिर विभिन्न क्षेत्रों में जॉब प्राप्त कर सकते हैं। जो कि कुछ इस प्रकार है।

  • डाटा एंट्री ऑपरेटर।
  • इंटरनेट ऑपरेटर।
  • कंप्यूटर ऑपरेटर।
  • बेसिक प्रोग्रामिंग।
  • ऑफिस असिस्टेंट।
  • अकाउंटेंट।
  • टीचर।

PGDCA के लिए टॉप भारतीय (Univercity) कॉलेज?

PGDCA के लिए भारतीय टॉप 10 यूनिवर्सिटी।

  • माखनलाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय, भोपाल ।
  • पंजाब तकनीकी विश्वविद्यालय, जलधर ।
  • डिब्रुगढ़ विश्वविद्यालय, असम ।
  • इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय, नई दिल्ली ।
  • भारतीय संख्यिकी संस्थान, कोलकाता।
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी ।
  • पटना महिला कॉलेज, पटना ।
  • महर्षि मार्कडेश्वर विश्वविद्यालय ।
  • अन्नामलाई विश्वविद्यालय ।
  • सरदार पटेल विश्वविद्यालय ।
  • दिल्ली विश्वविद्यालय ।
  • मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज, मद्रास ।
  • वल्लभ गवर्नमेंट कॉलेज, मंडी ।

FAQ Questions?

पीजीडीसीए के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

पीजीडीसीए कोर्स करने के लिए योग्यता की बात करें तो ग्रेजुएशन डिग्री होने के बाद पीजीडीसीए कोर्स को कर सकते हैं।

पीजीडीसीए में कौन-कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

पीजीडीसीए में काफी सारे सब्जेक्ट देखने को मिल सकते हैं जिसकी जानकारी हमने आपको इस पोस्ट में ऊपर दी है। यदि आप पीजीडीसीए कोर्स के सब्जेक्ट के बारे में जानना चाहते हैं तो इस पोस्ट को जरूर पढ़ें।

पीजीडीसीए की फीस कितनी लगती है?

पीजीडीसीए कोर्स की फीस 10,000 से 30,000 के बीच में हो सकती है। यह स्पष्ट रूप से सही नहीं हो सकती है। क्योंकि विभिन्न कॉलेजों में कम या ज्यादा फीस देखने को मिल सकती है।

पीजीडीसीए करने के बाद कौन सी नौकरी मिलती है?

पीजीडीसीए करने के बाद विभिन्न प्रकार की नौकरी देखने को मिल सकते हैं। यह नौकरी कंप्यूटर के क्षेत्र में मिल सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: