Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

मनुष्य में लिंग निर्धारण की प्रक्रिया को समझाइए? (Explain the Process of Sex Determination in Humans)

Manav Mein Ling Nirdharan Ki Prakriya : मां के गर्भ में पुत्र या पुत्री का पता लगाना लिंग निर्धारण कहलाता है।

मनुष्य में लिंग निर्धारण की प्रक्रिया :-

मनुष्य में 23 जोड़ी गुणसूत्र पाए जाते हैं। जो दो प्रकार के होते हैं।

1.ओटोसोम :- मनुष्य में 22 जोड़ी गुणसूत्र ऐसे होते हैं। जो Male व Female में समान होते हैं जिन्हें ओटोसोम कहते हैं।

2.एलोसोम :- मनुष्य में 1 जोड़ी गुणसूत्र ऐसे होते है। जो Male व Female में अलग-अलग होते हैं। ये Male में XY व Female में XX होते हैं।

अगर Male का X गुणसूत्र Female के X गुणसूत्र से फ्यूज (Fuse) होता हैं। तो उत्पन्न होने वाली संतान XX पुत्री होती हैं। और अगर Male का Y गुणसूत्र Female के X गुणसूत्र से फ्यूज (Fuse) होता हैं। तो उत्पन्न होने वाली संतान XY पुत्र होती है।

अतः हम कह सकते हैं कि Y गुणसूत्र ही लिंग निर्धारण का कार्य करता है।

में लिंग निर्धारण

यह भी पढ़ें –

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: